Post rank question

मेरा सवाल थोड़ा कठिन है तो कृपया आप समझने की कोशिश कीजिएगा।

मैं अपनी पोस्ट को पब्लिश करके तुरंत उसे इंडेक्स कर देता हूं। और जब 2 दिन बाद देखता हूं तो पोस्ट 1 पेज से लेकर 5वे पेज पर रैंक होती दिखाई पड़ती है। यह सारी पोस्ट 2,000 शब्दो के आसपास होती है।

में मानता हूं कि मुझे जितना seo आता है उससे ही पोस्ट वहा पर रैंक होती है।

पर समस्या यह है।

1 महीने पहले मैंने अपने ब्लॉग पर पिलर पोस्ट को लिखा था। जो की लगभग 8,000 शब्दो का था।

उसे भी मैंने तुरन्त इंडेक्स करके दूसरे दिन देखना चाहा की कहा पर रैंक कर रहा हैं।

पर रैंक तो दूर की बात वो पुरे serp नही दिख रहा था।

मुझे लगा बड़ा लेख है समय लगेगा, लेकिन आज 1 महीना हो गया पर अभी भी वो पोस्ट कही पर भी show नही हो रही है।

मैंने चेक भी किया की वह इंडेक्स है या नही। और वो पोस्ट पूरी तरह से गूगल में इंडेक्स है।

लेकिन बात सिर्फ इतनी नही है।

दो दिन पहले मैंने फिर एक बड़ा लेख जिसके शब्द 3,000 -4,000 के थे, उसे पब्लिश किया।

पर वो भी कही serp नही दिख रहा है।

मैं बड़ी पोस्ट में छोटी पोस्ट की तुलना में ज्यादा बेटर seo करता हु और बाकि चीजो का भी ध्यान ज्यादा रखता हूं, लेकिन वो रैंक होना तो दूर serp में ही नही दिखती।

ऐसा कुछ 5 महीने पहले भी एक बड़े आर्टिकल के साथ हुआ था और वो आर्टिकल आज भी मुझे serp में नही दीखता।

तो कुल मिलाके समस्या यह है कि मेरे दूसरे आर्टिकल जो की छोटे या मध्यम शब्दो के है वो सरलता से रैंक कर रहे है, और दूसरी और लंबे आर्टिकल दिखाई तक नही पड़ते।

यह serp ना दिखने वाली घटना मेरे एक छोटे आर्टिकल के साथ भी हुई है।

तो मेरे मन में अब सवाल है कि क्या ऐसा हो सकता है कि low domain authority होने की वजह स गूगल लंबे आर्टिकल ना दिखा रहा हो।

और यह सच है तो मेरी एक छोटी पोस्ट के साथ भी ऐसा क्यों हुआ।

सच कहु तो किसी लेख पर इतनी ज्यादा महेनत करने पर जब वो serp में भी ना दिखे तो बहोत दुःख होता है। मन करता है कि छोड़ दे यह ब्लोगिंग।

अगर किसी को उस पोस्ट का url चाहिए तो बता देना।

Jiten ji, aapki batein sunkar kafi bura laga. Mujhe malum hai aap bahut mehnat kar rahe ho. sath mein sabhi google guidelines ka bhi palan kar rahe ho. Jo ki sahi baat hai.

Lekin ek baat aapko samajhna bhi hoga ki google apne algorithm baar baar change karte rehte hain. Isliye jo baat aapko lag raha hai sahi hai wo shayad google ke nazaron mein sahi na ho.

Isliye meri manen to aap jis keyword ko target kar rahe hain use google par search karen aur top search results ko analyze karen. Un sites ko dekhen ki unhone aisa kya kiya hai jo google unke article ko aapke wale se jyada importance de raha hai.

Sath mein ek cheez bilkul na bhulein ki google mein cheezen rank hone mein samay lagta hai. So Blogging ka dusra nam patience hai. Mujhe malum hai aapko ye sab aapko pata hai lekin jo log rank kar rahe hain wo bhi kuch jyada nahi kar rahe. Bas cheezon ko thoda apne andaz mein kar rahe hain.

Hope ki aapko kuch ismein sikhne ko mila hoga. Patience to bhai rakhna hoga, warna abhi hi blogging chod do… Be confident. Success milegi …jarur thodi der sahi

बहोत बहोत शुक्रिया भाई, मुझे यह बात समजाने के लिए।

आपने जो बात बताई उसे में जरूर फॉलो करूंगा।

आप सही है, ब्लॉगिंग में धैर्य रखना पड़ता है, पर मुझे समस्या यह नही है कि मेरी साइट रैंक नही कर रही है।

समस्या यही है कि जिन पोस्ट पर थोड़ी महेनत करेता हु वो serp आसानी से दिख जाती हसि लेकिन जिस पोस्ट पर ज्यादा महेनत करता हु वो नही दिखती।

पर फिर भी में आपकी बातों को ध्यान में रखूंगा और आगे और भी ज्यादा महेनत करूंगा।

मार्गदर्शन और उत्साह बढ़ाने के लिए धन्यवाद।