क्या दूसरे वर्ष भी बिना रजिस्ट्रेशन के कार का बीमा किया जा सकता है?

कार खरीदने के दुशरे साल क्या हम बिना रजिस्ट्रेशन के कार का बीमा कर सकते है?

कार खरीदने के दुशरे साल हमें बिना रजिस्ट्रेशन के कार का बीमा नहीं करा सकते हैं. यानि इसका मतलब है की कोई भी Motor यान बिना गाड़ी registration के उनका insurance कराया नहीं जा सकता है.

जब आप कोई नया गाड़ी (बाइक, कार) खरीदते हैं तब उस समय आपको उस गाड़ी का एक registration certificate बनवाना पड़ता है जो की नयी गाड़ी के लिए करीब 15 वर्ष तक valid होता है और इसे उसके बाद हर 5 वर्षों में renew करवाना पड़ता है उसके बाद.

दुसरे राज्य पर जाने पर क्या गाड़ी रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होता है ?

अगर आप किसी दुसरे राज्य या union territory को जाते हैं, तब ऐसे में आप अपने गाड़ी को उसके पूर्व registration के आधार पर करीब 12 महीने तक maximum चला सकते हैं, उसके बाद आपको उसे re-register कराना पड़ता है local RTO के द्वारा.

Vehicle Registration क्या होता है?

Vechile Registration एक registration प्रक्रिया होता है जिसमें की गाड़ी की पंजीकरण की जाती है. गाड़ी की registration या पंजीकरण करना बाध्य होता है आपके क्षेत्र के Regional Transport Office (RTO) में वो भी Motor Vehicles Act के तहत.

इस प्रकार के प्रक्रिया में आपके vechile (वाहन) के credentials को सरकारी रिकार्ड्स में शामिल किया जाता है उसकी due verfication के बाद. ये मदद करता है एक लिंक साझा करने में आपके वाहन और उसके मालिक के बीच में.

नियम के अनुसार, एक car, two-wheeler या किसी दूसरी प्रकार के vehicle में एक two high-security registration plates (HSRPs) install होना चाहिए वाहन के front और back में. अगर कोई भी number plate miss होती ई तब ऐसे में vehicle-owner या driver को इसके लिए fine भी किया जा सकता है police और दुसरे authorities के द्वारा.

गाड़ी की registration करना क्यूँ जरुरी होता है ?

गाड़ी की registration करना mandatory होता है law के अनुसार और वहीँ ये बहुत ही जरुरी होता है एक proof of ownership साझा करने के लिए आपके वाहन के लिए.

ये काफी जरुरी होता है यदि आप अपनी गाड़ी को कभी बिक्री करना चाहें तब या ownership को transfer करने के लिए, यदि आप उसे resell करना चाहें. Cars और two-wheelers जिसकी proper vehicle registration होती है उन्हें केवल भारतीय rods में ही चलाने का permit होता है. वहीँ Registration के आधार पर आप वाहन का Insurance भी कर सकते हैं.